National Voters Day 2023: क्या है इस बार की थीम ? - bimaloan.net
Other

National Voters Day 2023: क्या है इस बार की थीम ?

National Voters Day 2023 : लोकतंत्र में चुनाव (Election in Democracy) एवं मतदाता दोनों ही सबसे महत्वपूर्ण होते हैं. लेकिन एक सोचने वाली बात यह है कि देश में स्वतंत्रता दिवस, गणतंत्र दिवस, संविधान दिवस पर खूब चर्चा होती है, लेकिन राष्ट्रीय मतदाता दिवस (National Voters Day 2023) बहुत कम.

भारत में राष्ट्रीय मतदाता दिवस (National Voters Day) प्रतिवर्ष 25 जनवरी को मनाया जाता है. इसके आयोजन का मुख्य उद्देश्य लोगों में अपने मतदान (Voting in India) अधिकार और मतदाता के रूप में उनकी जागरूकता फैलाना है. मतदान एवं चुनाव लोकतंत्र के महत्वपूर्ण आधार स्तंभ होते हैं एवं इसे सुचारू रूप से चलाने के लिए मतदाता का सबसे महत्वपूर्ण योगदान होता है. भारत के लोकतंत्र में राष्ट्रीय मतदाता दिवस को मनाने का क्या महत्व एवं औचित्य है यह एक बड़ा सवाल है.

राष्ट्रीय मतदाता दिवस 25 जनवरी क्यों मनाया जाता है ?

भारत में राष्ट्रीय मतदाता दिवस प्रतिवर्ष गणतंत्र दिवस से 1 दिन पूर्व मनाया जाता है क्योंकि इस दिन देश में चुनाव आयोग की स्थापना की गई थी जिसका मुख्य उद्देश्य भारतीय संविधान के मुताबिक देश में निपक्ष एवं सफल चुनाव का आयोजन कराना है . 25 जनवरी 1950 को देश में चुनाव आयोग(Election Commission) नाम की संस्था ने जन्म लिया था.

National Voters Day 2023

सबसे बड़ा लोकतंत्र लेकिन

यदि संख्या के आधार पर देखें तो भारत में दुनिया के सबसे ज्यादा मतदाता है इस आधार पर भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है. लेकिन यह भी एक वास्तविकता है कि यदि मतदान प्रतिशत के हिसाब से देखें तो भारत मैं अन्य लोकतंत्र की तुलना में कम मत प्रतिशत होता है. इसलिए भारतवर्ष में यह भी कहा जाता है कि लोग जितने राजनीति के प्रति जागरूक है उतने मतदान करने के प्रति नहीं है.

जन जागरूकता की आवश्यकता

भारतवर्ष में हर 18 साल से अधिक आयु का युवक एक मतदाता है जिसे वोट देने का अधिकार होता है, लेकिन हमको एक और बात समझनी होगी जो बहुत महत्वपूर्ण है कि हम सब को वोट देना या मतदान करना मात्र हमारा अधिकार ही नहीं है बल्कि हम सब का कर्तव्य भी है. लोगों को उसके महत्व एवं शक्ति को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए. इसलिए यह महत्वपूर्ण है कि सभी मतदाताओं को अपने मताधिकार का प्रयोग करना चाहिए.

एक गहन समस्या

चुनाव आयोग के द्वारा 2011 में यह महसूस किया गया कि जिन युवकों की आयु 18 वर्ष से ऊपर हो गई है, उनको मतदान के प्रति जागरूक करने एवं उनको मतदान की प्रक्रिया में शामिल करने के लिए प्रोत्साहित करने की आवश्यकता है. क्योंकि चुनाव आयोग के द्वारा यह देखा गया कि 18 साल की आयु होने के पश्चात युवाओं में मतदान करने के प्रति उत्सुकता एवं जागरूकता कम थी. इसी को देखते हुए जन जागरूकता बढ़ाने के लिए चुनाव आयोग के द्वारा राष्ट्रीय मतदाता दिवस की घोषणा की गई थी.

एक बड़ी पहल
इसी समस्या से निपटने के लिए चुनाव आयोग ने तय किया है कि प्रतिवर्ष 1 जनवरी से ही अधिक से अधिक युवाओं को अपना मतदान परिचय पत्र बनाने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा एवं इन सब के द्वारा 25 जनवरी को अपना मतदाता परिचय पत्र भरकर जमा करना होगा. उसके पश्चात कुछ ही दिनों में इनका मतदाता पहचान पत्र बनकर इनके पते पर पहुंचा दिया जाएगा .

National Voters Day 2023 Theme kya hai ?

National Voters Day 2023 Theme kya hai ?

चुनाव आयोग के द्वारा राष्ट्रीय मतदाता दिवस की घोषणा के पश्चात प्रतिवर्ष इसकी एक थीम रखी जाती है, इस वर्ष चुनाव आयोग के द्वारा राष्ट्रीय मतदान दिवस की थीम है “वोटिंग बेमिसाल है, मैं अवश्य वोट देता हूं” रखी है. इसके साथ साथ इस दिन देश में मतदाताओं के सराहनीय योगदान देने के लिए उनको पुरस्कृत भी किया जाता है जिसमें चुनाव आयोग के द्वारा, चुनाव आयोग के कर्मचारी, मीडिया संगठन और सरकारी संस्थाएं तक भी शामिल हैं.

साल में यही एक दिन ऐसा होता है जिसमें चुनाव आयोग देश की विभिन्न चुनाव प्रक्रियाओं से अलग हटकर केबल मतदाता को मतदान जागरूकता के लिए एवं मतदान पत्र बनाने के लिए सक्रिय रहता है. सरकारी मीडिया के के द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार इस साल की थीम “वोटिंग बेमिसाल है, मैं अवश्य वोट देता हूं” मतदाताओं को समर्पित है जिसका उद्देश्य मतदान की शक्ति के माध्यम से चुनाव प्रक्रिया में भागीदारी के प्रति व्यक्ति की भावना एवं आकांक्षा को व्यक्त करती है.

FAQ – National Voters Day 2023.

National Voters Day कब मनाया जाता है ?

राष्ट्रीय मतदाता दिवस प्रतिवर्ष 25 जनवरी को मनाया जाता है.

National Voters Day कब से मनाया जाना प्रारंभ किया गया ?

राष्ट्रीय मतदाता दिवस 2011 से प्रतिवर्ष 25 जनवरी को मनाना प्रारंभ किया गया.

इस वर्ष कौन सा National Voters Day मनाया जा रहा है ?

इस वर्ष 13 राष्ट्रीय मतदान दिवस मनाया जा रहा है.

National Voters Day 2023 Theme क्या है ?

सरकारी मीडिया के मुताबिक इस साल की थीम “वोटिंग बेमिसाल है, मैं अवश्य वोट देता हूं” मतदाताओं को समर्पित है .

चुनाव आयोग की स्थापना कब हुई थी ?

आयोग की स्थापना 25 जनवरी 1950 को हुई थी इसलिए राष्ट्रीय मतदाता दिवस भी इसी दिन मनाया जाता है.

भारतवर्ष में कितनी आयु के पश्चात मतदाता मतदान कर सकता है ?

भारतवर्ष में 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी युवा मतदान कर सकते हैं.

भारतवर्ष में मतदाता पहचान पत्र कितने वर्ष की आयु से बनना प्रारंभ होता है ?

भारतवर्ष में मतदाता पहचान पत्र 18 वर्ष की आयु से बढ़ना प्रारंभ होता है .

भारतवर्ष में मतदान करने के लिए किस आवश्यक दस्तावेज की आवश्यकता होती है.

भारतवर्ष में मतदान करने के लिए मतदाता पहचान पत्र की आवश्यकता होती है.

वर्तमान में मुख्य चुनाव आयुक्त भारत कौन हैं ?

वर्तमान में श्री अरुण गोयल मुख्य चुनाव आयुक्त भारत हैं.

मुख्य चुनाव आयुक्त का कार्यकाल कितने वर्ष का होता है ?

मुख्य चुनाव आयुक्त का कार्यकाल 6 वर्ष का होता है.

Related Articles

Back to top button
एक्सिस बैंक पर्सनल लोन कैसे ले जाने पूरी प्रक्रिया ? Harmanpreet Kaur captain of the India Women’s National Cricket Team Education institutions in Karnataka begin crackdown on ChatGPT usage The Stardust 50th Anniversary Photos by Photographs -Pradeep Bandekar Vampire Diaries actor Annie Wersching has died at 45