Uttarakhand: Lansdowne को जल्द ही 'मूल' नाम "कलों डंडा"(Kalon Danda) से पुकारा जा सकता है। - bimaloan.net
Uttarakhand

Uttarakhand: Lansdowne को जल्द ही ‘मूल’ नाम “कलों डंडा”(Kalon Danda) से पुकारा जा सकता है।

Uttarakhand: Lansdowne को जल्द ही ‘मूल’ नाम “कलों डंडा”(Kalon Danda) से पुकारा जा सकता है।


Uttarakhand : रक्षा मंत्रालय (MoD) के द्वारा उत्तराखंड में छावनी क्षेत्रों के अंतर्गत आने वाली सभी सड़कों, स्कूलों, कस्बों और अन्य प्रतिष्ठानों के ब्रिटिश काल में रखे गए नाम जो आज भी उपयोग किए जा रहे हैं के बारे में जानकारी मांगी है ताकि उनका नाम परिवर्तन करके “स्थानीय संस्कृति से संबंधित” रखा जा सके।

Uttarakhand में रक्षा अधिकारियों ने शुक्रवार को बताया कि मंत्रालय के निर्देशों के अनुसार लोकप्रिय पर्यटन शहर Lansdowne छावनी (जो गढ़वाल राइफल्स का रेजिमेंटल सेंटर है ) का नाम बदलकर ‘कलों डंडा’ करने का प्रस्तावित किया गया है, जो इसका “वास्तविक नाम” था। “

Uttarakhand Lansdowne may soon be called by Kalon Danda

Uttarakhand उप-क्षेत्र के एक वरिष्ठ सेना अधिकारी ने बताया (नाम न छापने की शर्त पर) , “MoD के द्वारा संबंधित अधिकारियों को एक पत्र भेजा गया था जिसमें ब्रिटिश काल मैं रखेंगे नामों को अन्य स्थानीय एवं प्रासंगिक नाम से बदलने के लिए संबंधित अधिकारियों को भेजा गया था। इसलिए, Lansdowne का नाम बदलकर Kalon Danda करने का सुझाव दिया गया है, जिसका गढ़वाली में अर्थ होता है ‘काला पहाड़’। यह स्थान पहले इसी नाम से जाना जाता था 19 वी शताब्दी तक, अंग्रेजो के द्वारा अपने तत्कालीन वायसराय लॉर्ड लैंसडाउन के सम्मान में इस स्थान का पुराना नाम बदलकर Lansdowne रखा गया था।

Uttarakhand Kedarnath Dham का गर्भगृह सोने की 550 परतों से सजाया गया।

सेना अधिकारी के द्वारा बताया गया, मसूरी के पास स्थित लंढौर छावनी, और क्लेमेंट टाउन, टर्नर रोड और देहरादून में अन्य छावनी बोर्डों के तहत आने वाले कुछ क्षेत्र भी रडार पर हैं। जिनकी प्रतिस्थापन अभी MoD को भेजी जानी है। ”

इस कार्य में प्रगति की पुष्टि करते हुए केंद्रीय रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट जी ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया : “ क्षेत्रीय लोगों के द्वारा समय-समय पर नाम परिवर्तन का अनुरोध आता रहता हैं। समय और परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए ऐसे प्रस्ताव पर विचार किया जाता है। मैं फिलहाल इस मामले में और कोई टिप्पणी नहीं कर सकता।”

Uttarakhand Lansdowne may soon be called by Kalon Danda

कुछ पूर्व सैनिकों के द्वारा रक्षा मंत्रालय के इस कदम का स्वागत किया है। उनमें से एक ने बताया, ” लेकिन यह बिना किसी राजनीतिक मकसद के, क्षेत्रीय निवासियों के बीच एक उचित जनमत संग्रह करने के पश्चात किया जाना चाहिए।”

एक सजायाफ्ता पूर्व अधिकारी, लेफ्टिनेंट जनरल मोहन भंडारी (सेवानिवृत्त), जो गढ़वाल राइफल्स से जुड़े थे एवं 40 से अधिक वर्षों तक सेना में अपनी सेवाएं दे चुके थे, ने टीओआई को बताया: “अब ब्रिटिश कालखंड के नामों वाले कई क्षेत्रों में पहले भारतीय नाम से जाना जाता था। अंग्रेजो के द्वारा वास्तव में स्थानीय नामों को बदल दिया था। इसमें आज के Lansdowne जैसी जगहें शामिल हैं। गढ़वाल राइफल्स के रेजिमेंटल के इतिहास से यह पता चलता है कि इसे क्षेत्र को पहले ‘Kalon Danda’ के नाम से जाना जाता था। लेकिन हमें स्थानीय निवासियों की राय जरूर लेनी चाहिए।”

पुरनकोट गांव की रहने वाली 62 वर्षीया स्थानीय निवासी रानी देवी कोटनाला ने बताया कि उनके दिवंगत पति के द्वारा Lansdowne में एक बेकरी खोली गई थी। और उसके पास अभी भी उस जगह की अच्छी यादें हैं। कोटनाला ने कहा: “लेकिन, यहां के लोग हमारे पूर्वजों द्वारा उपयोग किए गए नाम को चाहते हैं। यह पौड़ी जिले का एक प्रमुख शहर है और हमारे पूर्वज के द्वारा इस क्षेत्र को अंग्रेजों से बेहतर जानते थे।”

न्यू सोर्स एंड क्रेडिट :- TOI

Related Articles

Back to top button
Exclusive Masaba Gupta And Satyadeep Misra Married Pictures Tu Juthi Mai Makkar ❤️‍🔥✨🥵 latest Shraddha Kapoor and Ranbir Kapoor उत्तराखंड : धामी ने भ्रष्टाचार मुक्त व्यवस्था का आह्वान किया Anant & Radhika Engagement pictures Italian actress Gina Lollobrigida dies at 95